World Population religion wise and countrywise Hindu Muslim Christians UN Report | सदी के अंत तक होंगे 1100 करोड़ लोग, आधी आबादी केवल 10 देशों में! जानिए हिंदू-मुस्लिम कितने

धर्म के आधार पर आबादी का वर्गीकरण करें तो दुनिया में सबसे ज्यादा 31 फीसदी ईसाई हैं. फिर मुस्लिम और फिर तीसरे नंबर पर हिंदू धर्म के लोग आते हैं.

TV9 Bharatvarsh | Edited By: निलेश कुमार

Updated on: Nov 18, 2022, 8:43 AM IST

हाल ही में दुनिया की आबादी ने 800 करोड़ का आंकड़ा पार कर लिया है. आने वाले वर्षों में यह संख्‍या और बढ़ती चली जाएगी और इस सदी के अंत तक दुनिया की आबादी 1100 करोड़ के करीब होगी. इसमें सबसे ज्‍यादा योगदान 10 देशों का है. आगे आंकड़ों में समझते हैं जनसंख्‍या का गणित.

हाल ही में दुनिया की आबादी ने 800 करोड़ का आंकड़ा पार कर लिया है. आने वाले वर्षों में यह संख्‍या और बढ़ती चली जाएगी और इस सदी के अंत तक दुनिया की आबादी 1100 करोड़ के करीब होगी. इसमें सबसे ज्‍यादा योगदान 10 देशों का है. आगे आंकड़ों में समझते हैं जनसंख्‍या का गणित.

दुनिया की आबादी अभी करीब 800 करोड़ है. इसमें सबसे ज्‍यादा आबादी चीन की है. इसके बाद भारत, अमेरिका और फिर इंडोनेशिया का नंबर आता है. टॉप के ये चारों देश जी-20 के सदस्‍य हैं. बाकी देशों के आंकड़े भी देखिए.

दुनिया की आबादी अभी करीब 800 करोड़ है. इसमें सबसे ज्‍यादा आबादी चीन की है. इसके बाद भारत, अमेरिका और फिर इंडोनेशिया का नंबर आता है. टॉप के ये चारों देश जी-20 के सदस्‍य हैं. बाकी देशों के आंकड़े भी देखिए.

धर्म के आधार पर आबादी का वर्गीकरण करें तो दुनिया में सबसे ज्‍यादा 31 फीसदी ईसाई हैं. फिर मुस्लिम, जो 23 फीसदी हैं और फिर तीसरे नंबर पर हिंदू धर्म के लोग आते हैं, जो 15 फीसदी हैं. दुनिया में 16 फीसदी लोग ऐसे भी हैं, जिनका कोई धर्म ही नहीं.

धर्म के आधार पर आबादी का वर्गीकरण करें तो दुनिया में सबसे ज्‍यादा 31 फीसदी ईसाई हैं. फिर मुस्लिम, जो 23 फीसदी हैं और फिर तीसरे नंबर पर हिंदू धर्म के लोग आते हैं, जो 15 फीसदी हैं. दुनिया में 16 फीसदी लोग ऐसे भी हैं, जिनका कोई धर्म ही नहीं.

कई देशों की आबादी में पलायन भी एक प्रमुख कारण है. पलायन के मामले में पाकिस्‍तान की स्थिति सीरिया से भी बुरी है. यहां से 1.65 करोड़ लोगों का पलायन हुआ है. इसके बाद वेनेजुएला (48 लाख) और सीरिया (46 लाख) का नंबर आता है. आंकड़ों में देखें भारत समेत अन्‍य एशियाई देशों का हाल.

कई देशों की आबादी में पलायन भी एक प्रमुख कारण है. पलायन के मामले में पाकिस्‍तान की स्थिति सीरिया से भी बुरी है. यहां से 1.65 करोड़ लोगों का पलायन हुआ है. इसके बाद वेनेजुएला (48 लाख) और सीरिया (46 लाख) का नंबर आता है. आंकड़ों में देखें भारत समेत अन्‍य एशियाई देशों का हाल.

2050 में दुनिया की आबादी 973.50 करोड़ हो जाएगी. 2080 में 1067.37 करोड़ और सदी के अंत तक दुनिया की आबादी 1087 करोड़ पार कर जाएगी.

2050 में दुनिया की आबादी 973.50 करोड़ हो जाएगी. 2080 में 1067.37 करोड़ और सदी के अंत तक दुनिया की आबादी 1087 करोड़ पार कर जाएगी.


Most Read Stories

techo2life

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *