West Bengal Kolkata News Bloody game started before Panchayat elections TMC leader shot dead in Murshidabad | बंगाल: पंचायत चुनाव के पहले शुरू हुआ खूनी खेल, मुर्शिदाबाद में TMC नेता की गोली मारकर हत्या

पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव के पहले फिर से खूनी खेल शुरू हो गया है. गुरुवार की रात को नदिया के टीएमसी नेता की मुर्शिदाबाद के नवदा में गोली मारकर हत्या कर दी गई.

बंगाल: पंचायत चुनाव के पहले शुरू हुआ खूनी खेल, मुर्शिदाबाद में TMC नेता की गोली मारकर हत्या

फोटोः नदिया के टीएमसी नेता की हुई हत्या.

Image Credit source: Tv 9 Bharatvarsh

पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले के नवदा इलाके में एक तृणमूल नेता की गोली मारकर हत्या कर दी गई. मृतक का नाम मतिरुल विश्वास (45) है. नवदा के शिवनगर इलाके में गुरुवार की शाम बदमाशों ने उन पर हमला कर दिया. सूत्रों के मुताबिक उनकी हत्या बम और गोलियों से की गई. तृणमूल नेता का घर नदिया के थानरपाड़ा थाने के सादीपुर में है. उनकी पत्नी रीना विश्वास नारायणपुर 2 ग्राम पंचायत की मुखिया हैं. पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार मतिरुल खुद करीमपुर 2 प्रखंड के तृणमूल अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष हैं. रीना ने कहा, ”उसे किसने और क्यों गोली मारी, फिलहाल मैं कुछ नहीं कह सकती.” घटना के बाद से नवदा और सादीपुर दोनों इलाके में तनाव है. इस बीच हत्या को लेकर अभी तक एफआईआर दर्ज नहीं की गयी है. मृतक का परिवार नवदा के लिए रवाना हुआ है.

नवदा से लौटते समय टीएमसी नेता पर हुआ हमला

स्थानीय सूत्रों के अनुसार मतिरुल का पुत्र नौदर मोहम्मदपुर क्षेत्र के एक निजी स्कूल में आठवीं कक्षा में पढ़ता है. नेता कभी-कभी उनसे मिलने छात्रावास जाते थे. स्थानीय सूत्रों के अनुसार, वह पिछले सात से आठ वर्षों से नेता के निजी सुरक्षा गार्ड थे. इसके अलावा, कई सिविक वोलेंटियर्स उनके साथ रह रहे थे. गुरुवार की शाम वह नवदा मोहम्मदपुर इलाके से मोटरसाइकिल से लौट रहे थे. पीछे की सीट पर उनका सिक्युरिटी गार्ड बैठा था. बताया गया है कि एक अन्य मोटरसाइकिल सादीपुर क्षेत्र का सिविक वोलेंटियर था.

टीएमसी नेता पर फेंका बम, फिर मार दी गोली

नवदा में तियाकाटा फेरी घाट से पहले शिवनगर प्राइमरी स्कूल के पास बदमाशों ने उन पर बम फेंका. मतिरुल ने मोटरसाइकिल से शिवनगर गांव की ओर भागने की कोशिश की. कुछ देर बाद बदमाशों ने उन पर कई गोलियां चला दीं. इसके बाद बदमाश बाइक पर सवार होकर नवदा की ओर भाग गए. स्थानीय निवासियों ने मतिरुल को बचाया और उन्हें आमतला ग्रामीण अस्पताल ले गए. बाद में मुर्शिदाबाद मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले जाते समय उसकी रास्ते में मौत हो गई. मृतक के परिजनों का दावा है कि उसकी हत्या आपसी विवाद में हुई है. आरोप है कि नदिया जिला परिषद सदस्य टीना भौमिक, उनके करीबी राजकुमार कविराज और नौदार ब्लॉक तृणमूल अध्यक्ष सफीउज्जमां शेख की मिलीभगत से उनकी हत्या की गई.

ये भी पढ़ें



पुलिस ने घटना स्थल का किया दौरा, शुरू की जांच

सूचना मिलने के बाद नोवदा थाना पुलिस मौके पर पहुंची. घटनास्थल से कई गोलियों के खोल बरामद किए गए हैं. बाद में गुरुवार की रात करीब 8 बजे जिला पुलिस अधीक्षक सुरिंदर सिंह और जिला पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे. जिला पुलिस अधीक्षक ने कहा, “गोली और बम क्षतिग्रस्त होने से एक व्यक्ति की मौत हो गई. घटना की जांच जारी है.” घटना के तीन घंटे बाद थानरपाड़ा थाने की पुलिस नेता के सुरक्षा गार्ड को लेकर मौके पर पहुंची. ज्ञात हुआ है कि बम फेंकने के बाद सुरक्षा गार्ड तियाकाता घाट की ओर भाग गया था. जिला पुलिस प्रमुखों ने मौके पर उसकी जांच की. मुर्शिदाबाद के सांसद और पार्टी के जिला अध्यक्ष अबू ताहिर खान ने कहा, “किसी का नाम जानबूझकर लिया जा रहा है. हत्या में शामिल लोगों की उचित जांच हो और उन्हें सजा मिले. अगर हत्या के पीछे पार्टी का कोई व्यक्ति है तो पार्टी उनके खिलाफ भी कार्रवाई करेगी। पुलिस को निष्पक्ष जांच करने को कहा गया है.

techo2life

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *