Tv9 itts 5th convention building green pastures for safe and sustainable tourism minister g kishan reddy | कोरोना का सबसे ज्यादा असर टूरिज्म सेक्टर पर हुआ, आज तेजी से उभरा: जी किशन रेड्डी

केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा कि भारत में वातावरण बदला है. टूरिज्म सेक्टर आगे बढ़ रहा है. आने वाले समय में इस सेक्टर की ग्रोथ और होने वाली है. मोदी सरकार भी इस सेक्टर के लिए काफी काम कर रही है.

कोरोना का सबसे ज्यादा असर टूरिज्म सेक्टर पर हुआ, आज तेजी से उभरा: जी किशन रेड्डी

केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी किशन रेड्डी

TV9 ITTA के 5वें सम्मेलन में केंद्रीय मंत्री जी किशन रेड्डी ने भाग लिया. पर्यटन से जुड़े इस सम्मेलन का विषय रहा: बिल्डिंग ग्रीन पास्चर्स फॉर सेफ एंड सस्टेनेबल टूरिज्म. कार्यक्रम में केंद्रीय संस्कृति, पर्यटन और उत्तर पूर्वी क्षेत्र के विकास मंत्री किशन रेड्डी ने कहा कि सभी लोग अब मास्क जरूर लगाएं. मैं भगवान से ये ही प्रार्थना कर रहा हूं कि हमारे देश में कोरोना न आए. कोरोना से टूरिज्म सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ. आज भारत अच्छे वातावरण में है. टूरिज्म के दृष्टिकोण से भी देखिए तो भारत कम समय में टूरिज्म के सेक्टर में उभरकर आया. दुनिया में कोई दूसरा देश ऐसा नहीं है.

उन्होंने कहा कि श्रीनगर में टूरिज्म बढ़ रहा है. लोग बर्फ देखने के लिए जाएंगे, ठंड का कोई असर नहीं है. चारधाम देख लीजिए, केदारनाथ हो, बद्रीनाथ हो, हर जगह लोग जा रहे हैं. आने वाले समय में विदेशों से भी सभी भारत आना चाहेंगे, वो राम जन्मभूमि देखना चाहते हैं. वो काशी, सोमनाथ देखना चाहते हैं.वो उज्जैन-अमृतसर देखना चाहते हैं. विश्व में रहने वाला ये ही सोचेगा की भारत में ये सब देखना है.

रेड्डी ने कहा कि मोदी सरकार आने के बाद ट्रांसपोर्ट-टूरिज्म सेक्टर को लाभ मिला है. इसका कारण है नेशनल हाईवे. पहले एक स्टेट से दूसरे स्टेट में जाने के लिए 16 घंटे लगते थे. किसी देश में विकास होना है, निवेश आना है तो उसके लिए कनेक्टिविटी जरूरी है. अटल बिहारी वाजपेयी ने नेशनल हाईवे का काम शुरू किया. 10 साल काम बंद रहा, फिर इसकी शुरुआत हो गई. नेशनल हाईवे छोटी चीज नहीं है. नॉर्थ ईस्ट में हम 2 लाख करोड़ खर्च कर रहे हैं. अब 2 घंटे में शिलॉन्ग से गुवाहाटी पहुंच जाते हैं, पहले घंटों का समय लगता था.


केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अगले एक-दो साल में भारत का टूरिज्म दुनिया के लिए सबसे महत्वपूर्ण होगा. जी 20 समिट इस साल भारत में होना है. इसकी 250 मीटिंग होनी है. हजारों लोग आएंगे. इन देशों के बड़े से बड़े नेता आएंगे. उन लोगों को वापस जाकर अपने लोगों को बोलना चाहिए कि जाइए, भारत को देखकर आइए. हमारे सबसे बड़े एंबेसडर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी है. वो हर बार टूरिज्म की बात करते हैं. फॉरेस्ट टूरिस्ट भी आएंगे, घबराने की जरूरत नहीं है. उनके पास भारत के अलावा कोई विकल्प नहीं है. हम मार्केटिंग नहीं कर पाए, अब हमारा एंबेसडर ठीक है. अब हम अच्छे से मार्केटिंग करेंगे. हम 5वीं अर्थव्यवस्था हैं, हमें डरने की जरूरत नहीं है.हम अच्छे वातावरण में आगे बढ़ रहे हैं.

techo2life

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *