Russia Ukraine War News: Blackout In Ukraine Kyiv Millions Under Cold Wave Temperature goes below zero degree | सर्दी में कहर बरपा रही रूसी सेना, यूक्रेन के पावर प्लांट को बनाया निशाना, कई शहरों में ब्लैक आउट

रूसी सेना खासतौर पर यूक्रेन के पावर प्लांट को निशाना बना रही है. ऐसे में कई शहर अंधेरे में समा गए हैं. इस तरह की संकटों की वजह से माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में बड़े स्तर पर लोगों का पलायन भी हो सकता है.

सर्दी में कहर बरपा रही रूसी सेना, यूक्रेन के पावर प्लांट को बनाया निशाना, कई शहरों में ब्लैक आउट

यूक्रेन में लाखों अंधेरे में

Image Credit source: @SashaUstinovaUA

रूस के साथ युद्ध के बीच यूक्रेन में तबाही का मंजर जारी है. सर्दी बढ़ने से रूस अपने ऊर्जा हथियार का बड़े स्तर पर इस्तेमाल कर रहा है. पहले तो यूक्रेन को ऊर्जा आपूर्ति रोक दी और अब रूसी सेना यूक्रेन के पावर प्लांट को निशाना बना रही है. सर्दी के मौसम में यहां लाखों लोग बिना बिजली, बिना हीट और बिना पानी के रहने को मजबूर हैं. तापमान शून्य डिग्री सेल्सियस से नीचे चला गया है. रूस ने पिछले दिनों यूक्रेन में बड़े स्तर पर बमबारी की है. रूसी सेना खासतौर पर यूक्रेन के पावर प्लांट को निशाना बना रही है. ऐसे में कई शहर अंधेरे में समा गए हैं. इस तरमाना जा रहा हैह की संकटों की वजह से कि आने वाले दिनों में बड़े स्तर पर लोगों का पलायन भी हो सकता है.

यूक्रेन के बुनियादी ढांचों पर नए सिरे से रूसी सैन्य बलों के हमलों के बाद तीन सक्रिय परमाणु ऊर्जा संयंत्रों का ग्रिड से जुड़ाव टूट गया है और देश के अधिकतर हिस्से में बिजली गुल है. ऊर्जा मंत्रालय ने एक फेसबुक पोस्ट में कहा कि बिजली कर्मचारी आपूर्ति बहाल करने के लिए काम कर रहे हैं लेकिन बड़े पैमाने पर हुए नुकसान के मद्देनजर इसमें समय लग सकता है.

इमारत पर हमला, तीन की मौत

यूक्रेन के बुनियादी ढांचों को निशाना बनाकर किए गए हमलों के बाद देश के अधिकतर हिस्सों और पड़ोसी मोल्दोवा क्षेत्र में बिजली आपूर्ति प्रभावित हुई है. कई क्षेत्रों में हमले किए गए हैं. विभिन्न क्षेत्रों के प्रशासन ने महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचे को निशाना बनाए जाने की बात कही है. यूक्रेन की राजधानी कीव में अधिकारियों ने बताया कि दो मंजिला इमारत पर रूसी हमले में तीन लोगों की मौत हो गई और नौ लोग घायल हो गए. रूस पिछले कई हफ्तों से पावर ग्रिड और अन्य ढांचों को निशाना बनाकर बमबारी कर रहा है.

अंधेरे में लोगों का संकल्प और मजबूत होगा- यूक्रेन

नए हमलों के कारण पहले से तहस-नहस ऊर्जा ढांचे पर बोझ और बढ़ गया है. नए हमलों से पूर्व यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने कहा था कि रूस के हमलों के कारण यूक्रेन की करीब आधी आधारभूत संरचना बर्बाद हो गई है. बिजली की कमी के बीच लाखों लोगों की दिक्कतें पहले से बढ़ी हुई हैं और अब जलापूर्ति भी प्रभावित हुई है. यूक्रेन के अधिकारियों का कहना है कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को लगता है कि जाड़े में अंधकार में समय गुजारने पर लोगों की राय युद्ध के खिलाफ होगी, लेकिन उनका सोचना गलत है क्योंकि लोगों का संकल्प और मजबूत होगा.

कीव के मेयर विटाली क्लिट्सको ने कहा कि राजधानी की बुनियादी सुविधाओं में से एक को नुकसान पहुंचा है और शहर के विभिन्न जिलों में कई जगह विस्फोट हुए हैं. उन्होंने कहा कि पूरे कीव में पानी की आपूर्ति ठप हो गई है. मोल्दोवा में, आधारभूत संरचना मंत्री आंद्रेई स्पिनू ने कहा कि देश भर में बड़े पैमाने पर बिजली की किल्लत हो गई है. मोल्दोवा की सोवियत-युग की ऊर्जा प्रणालियां यूक्रेन से जुड़ी हुई हैं.

(भाषा इनपुट के साथ)

techo2life

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *