Pune news serum institute Whatsapp duping case Seven arrested from various states main accused on the run maharashtra | अदार पूनावाला के नाम पर 1 करोड़ की ठगी करने वाले 7 आरोपी चढ़े पुलिस के हत्थे, 1 अब भी फरार

पुलिस उपायुक्त (द्वितीय क्षेत्र) समर्थना पाटिल ने कहा कि ये आठ बैंक खाते आठ व्यक्तियों के थे।.उनमें से सात को अलग-अलग राज्यों से गिरफ्तार किया गया, जबकि मुख्य आरोपी की तलाश अभी चल रही है.

अदार पूनावाला के नाम पर 1 करोड़ की ठगी करने वाले 7 आरोपी चढ़े पुलिस के हत्थे, 1 अब भी फरार

अदार पूनावाला. (फाइल फोटो)

Image Credit source: PTI

महाराष्ट्र के पुणे में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अदार पूनावाला के नाम पर ठगी करने के मामले में पुलिस ने 7 लोगों को गिरफ्तार किया है. आदार पूनावाला की तस्वीर कथित रूप से इस्तेमाल करने और टीका निर्माता कंपनी के एक निदेशक से 1.1 करोड़ रुपये विभिन्न बैंक खातों में कथित रूप से ठगे गए थे. पुलिस ने मामले में सात आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि सितंबर के दूसरे हफ्ते में बंदगार्डेन थाने में दर्ज करायी गयी प्राथमिकी के अनुसार आरोपियों ने एक वॉट्सएप एकाउंट में पूनावाला की तस्वीर का इस्तेमाल किया था, उसके माध्यम से कंपनी के एक निदेशक सतीश देशपांडे को धनराशि ट्रांसफर करने का संदेश भेजा था.उन्होंने बताया कि देशपांडे को लगा कि यह संदेश पूनावाला की ओर से आया है.

अदार पूनावाला के नाम पर 1 करोड़ की ठगी

उन्होंने कंपनी के कोष से वॉट्सएप वार्ता में दिए गे आठ बैंक खातों में 1.1 करोड़ रुपये ट्रांसफर कर दिए. पुलिस उपायुक्त (द्वितीय क्षेत्र) समर्थना पाटिल ने कहा कि ये आठ बैंक खाते आठ व्यक्तियों के थे।.उनमें से सात को अलग-अलग राज्यों से गिरफ्तार किया गया, जबकि मुख्य आरोपी की तलाश अभी चल रही है. पुलिस ने 40 ऐसे खाते जब्त किए हैं, जिनमें इन आठ खातों से पैसे ट्रांसफर किए गए. उन्होंने कहा कि अब तक इन खातों से 13 लाख रुपये जब्त कर लिए गए हैं. आरोपी बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और आंध्र प्रदेश के बीटेक और विज्ञान ग्रेजुएट हैं. उनमें से एक आरोपी एककमर्शियल बैंक में काम करता है.

पुलिस के हत्थे चढ़ें 8 में से 7 आरोपी

कोरोना वैक्सीन उपलब्ध करवाने वाली पुणे की कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट साइबर फ्रॉड का शिकार हो गई.सीरम इंस्टीट्यूट के CEO अदार पूनावाला का नाम लेकर कंपनी के एक बड़े अधिकारी को वाट्सअप पर मैसेज किए गए थे. उनसे अलग-अलग अकाउंट नंबर पर एक करोड़ रुपए ट्रांसफर के लिए कहा गया था. फाइनांस अधिकारी को लगा कि बॉस का आदेश है, तो उन्होंने सभी अकाउंट नंबर पर पैसा ट्रांसफर कर दिया. यह सोच कर कि बॉस का आदेश है, पैसे ट्रांसफर कर दिए.जब उनकी फोन पर अदार से बात हुई तो उनको ठगी का एहसास हुआ.

ये भी पढ़ें



इनपुट-भाषा के साथ

techo2life

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *