Pralhad Joshi says We strongly condemn the behaviour of Opposition in Rajya Sabha Regarding Mask and China | अध्यक्ष कहते रहे मास्क लगाएं, विपक्ष ने एक न सुनी, जोशी बोले- कांग्रेस नहीं करती सदन का सम्मान

प्रह्लाद जोशी ने चीन को लेकर भी कांग्रेस पर तीखा प्रहार किया. उन्होंने कहा कि सत्ता में रहते हुए चीन के हाथों जमीन गंवाने के बावजूद कांग्रेस आसन का सम्मान नहीं कर रही है. मैं उनसे अपील करता हूं कि वे अपने व्यवहार को बदलें.

अध्यक्ष कहते रहे मास्क लगाएं, विपक्ष ने एक न सुनी, जोशी बोले- कांग्रेस नहीं करती सदन का सम्मान

संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी

Image Credit source: @JoshiPralhad

संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने गुरुवार को कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि लोकतांत्रिक प्रक्रिया के लिए पार्टी मन में कोई सम्मान नहीं है. संसदीय कार्य मंत्री ने कहा कि हम राज्यसभा में विपक्ष के व्यवहार की कड़ी निंदा करते हैं. उन्होंने सभापति के अनुरोध को भी खारिज कर दिया. जब अध्यक्ष ने विपक्ष के लोगों से मास्क पहनने का अनुरोध किया तो उस पर कोई ध्यान नहीं दिया. लोकतांत्रिक प्रक्रिया के लिए उनके मन में कोई सम्मान नहीं है.

उन्होंने पत्रकारों से बातचीत में कहा, ‘राज्यसभा के सभापति ने विपक्ष से हाथ जोड़कर आग्रह किया था. उन्होंने नेता प्रतिपक्ष और सदन में अन्य दलों के नेताओं से आग्रह किया कि वे बातचीत करें. उनके आग्रह को ठुकरा दिया गया.’ जोशी के मुताबिक, संसद में हंगामा खत्म करने का प्रयास करते हुए सभापति जगदीप धनखड़ ने सुझाव दिया था कि सदन में मुद्दे उठाने के संदर्भ में चर्चा के लिए उनके कक्ष में बैठक हो, लेकिन विपक्षी दलों ने इसे भी खारिज कर दिया.

प्रह्लाद जोशी ने क्या कहा?

चीन को लेकर कांग्रेस पर किया तीखा प्रहार

प्रह्लाद जोशी ने चीन को लेकर भी कांग्रेस पर तीखा प्रहार किया. संसदीय कार्य मंत्री ने चीन के साथ सीमा पर तनाव के विषय पर चर्चा की मांग को लेकर संसद में चल रहे गतिरोध का हवाला देते हुए आरोप लगाया कि कांग्रेस के समय भारत की जमीन के चीन के हाथों गंवा दी गई. उन्होंने कहा, ‘सत्ता में रहते हुए चीन के हाथों जमीन गंवाने के बावजूद कांग्रेस आसन का सम्मान नहीं कर रही है. मैं उनसे अपील करता हूं कि वे अपने व्यवहार को बदलें.’

जनादेश को हो सम्मान

जोशी का कहना था, ‘लोगों ने नरेंद्र मोदी सरकार को जनादेश दिया है और उसका सम्मान होना चाहिए. लोकसभा अध्यक्ष और राज्यसभा के सभापति दोनों ने सदस्यों से सदन के भीतर मास्क पहनकर आने का आग्रह किया था, लेकिन नेता प्रतिपक्ष खरगे ने ही मास्क नहीं पहना. यह उनका रवैया दिखाता है. हमें तो यहां उदाहरण प्रस्तुत करना चाहिए.’ विपक्षी दल 7 दिसंबर से शुरू हुए संसद के शीतकालीन सत्र में चीन के मुद्दे पर चर्चा की मांग लगातार कर रहे हैं. दोनों सदनों में कई सांसदों ने इस विषय पर कार्यस्थगन प्रस्ताव के नोटिस भी दिए हैं. (भाषा से इनपुट के साथ)

techo2life

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *