New Pakistan army chief Lt Gen Asim Munir profile how a two star general become pak army chief full story | 2018 में दो स्टार, 8 महीने ISI चीफ और अब पाक आर्मी चीफ, जानिए कौन हैं असीम मुनीर

New Pakistan army chief Lt Gen Asim Munir: कमर जावेद बाजवा के रिटायरमेंट के बाद नए आर्मी चीफ के लिए रेस में कई नाम शामिल थे, लेकिन सेना की कमान असीम मुनीर को सौंपी गई. लेफ्टिनेंट जनरल असीम मुनीर पाकिस्तानी सेना के सबसे वरिष्ठ अधिकारी हैं.

2018 में दो स्टार, 8 महीने ISI चीफ और अब पाक आर्मी चीफ, जानिए कौन हैं असीम मुनीर

लेफ्ट‍िनेंट जनरल असीम मुनीर पाकिस्‍तान के नए आर्मी चीफ होंगे.

Image Credit source: TV9 GFX

लेफ्टिनेंट जनरल असीम मुनीर पाकिस्तान के नए आर्मी चीफ होंगे. PM शहबाज शरीफ ने इनके नाम की घोषणा की है. कमर जावेद बाजवा के रिटायरमेंट के बाद नए आर्मी चीफ के लिए रेस में कई नाम शामिल थे, लेकिन सेना की कमान असीम मुनीर को सौंपी गई. लेफ्टिनेंट जनरल असीम मुनीर पाकिस्तानी सेना के सबसे वरिष्ठ अधिकारी हैं. उनकी तैनाती रावलपिंडी में जनरल हेडक्वार्टर में थी. 2017 में डीजी मिलिट्री इंटेलिजेंस के पद पर रहने के बाद मुनीर साल 2018 में 8 महीने के लिए ISI चीफ रहे.2018 में मुनीर दो स्टार रैंक वाले जनरल थे.

पाकिस्तानी मीडिया DAWN के मुताबिक, लेफ्टिनेंट जनरल के रूप में उनका चार साल का कार्यकाल 27 नवंबर को समाप्त हो रहा है. इस कार्यकाल के खत्म होते-होते उन्हें सेना चीफ बनाने की घोषणा की गई है.

इमरान के कारण ही ISI से बाहर हुए

असीम मुनीर मात्र 8 महीने ISI चीफ रहे, इसकी वजह थे तत्कालीन प्रधानमंत्री इमरान खान. इमरान के कहने पर ही इन्हें ISI से बाहर का रास्ता दिखाया गया था. इसका खुलासा पाकिस्तान के वरिष्ठ पत्रकार नजम सेठी ने किया था. उन्होंने बताया था कि तब जनरल मुनीर डीजी ISI थे तो उस समय उन्होंने इमरान से कहा था कि पंजाब प्रांत के हालात ठीक नहीं है. अगर वहां के नेतृत्व में बदलाव नहीं हुआ तो नई दिक्कतें पैदा हो सकती हैं. मुनीर ने इमरान से बातचीत में यह बात साफ तौर पर कही थी कि पंजाब प्रांत में जो हालात बने हैं उससे सेना की छवि खराब हो रही है.

इमरान खान ने मुनीर की बात पर तो कोई जवाब नहीं दिया, लेकिन तत्कालीन सेना चीफ जनरल बाजवा से इन्हें हटाने की बात कही. इसके बाद ही मुनीर को गुंजरावाला भेजा गया था.

मुनीर ने किया था इमरान की बेगम के भ्रष्टाचार का खुलासा

पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की बेगम बुशरा बीबी ने जो भ्रष्टाचार किया उसका खुलासा भी सीधेतौर पर जनरल मुनीर ने इमरान के सामने कर दिया था. यह बात भी इमरान को पसंद नहीं आई थी. मुनीर की ISI से विदाई के पीछे यह भी एक बड़ा कारण बताया गया. इसके बाद वो दो साल तक गुजरांवाला कॉर्प्स कमांडर रहे और बाद में रावलपिंडी स्थित जनरल हेडक्वार्टर में तैनाती रही.

विवादों को दूर करके सेना को मजबूत करने की चुनौती

जनरल बाजवा के करीबी सहयोगी रहे मुनीर के पास सेना को मजबूत करना और आर्मी से जुड़े विवादों से निपटने की चुनौती होगी. पाकिस्तान के नए सेना प्रमुख की नियुक्ति को लेकर लंबे समय से अनिश्चितता का माहौल था. पाकिस्तानी सरकार को जनरल कमर जावेद बाजवा की जगह लेने के लिए कई वरिष्ठ जनरल के नाम भेजे गए थे.

मुनीर के अलावा पाक सेना चीफ बनने की रेस में लेफ्टिनेंट जनरल साहिर शमशाद मिर्जा, लेफ्टिनेंट जनरल अजहर अब्बास, लेफ्टिनेंट जनरल नौमान महमूद, आईएसआई के पूर्व डायरेक्टर जनरल लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद और लेफ्टिनेंट जनरल मुहम्मद आमिर का नाम शामिल था.

ये भी पढ़ें



और पढ़ें- नॉलेज की स्टोरी

techo2life

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *