Maulana fazal ur rehman canceled 4 days tour to india against backdrop of anti modi remark of bilawal bhutto | पाकिस्तान के इस्लामी कट्टरपंथी नेता का भारत दौरा रद्द, भुट्टो की एंटी-मोदी टिप्पणी है वजह?

मौलाना फजल उर रहमान पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट के सदस्य भी थे, जो विपक्षी दलों का एक गठबंधन था जिसने इमरान खान को सरकार से उखाड़ फेंकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी.

पाकिस्तान के इस्लामी कट्टरपंथी नेता का भारत दौरा रद्द, भुट्टो की एंटी-मोदी टिप्पणी है वजह?

मौलाना फजल उर रहमान

Image Credit source: Twitter

पाकिस्तान के इस्लामी कट्टरपंथी नेता और जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम (F) के अध्यक्ष मौलाना फजल उर रहमान ने भारत का 4 दिनों का दौरा रद्द कर दिया है. माना जा रहा है कि पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो ने हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जो टिप्पणी की है, उसी के चलते ये दौरा रद्द हुआ है. मौलाना फजल उर रहमान ने इमरान खान के प्रधानमंत्री रहते हुए उनके खिलाफ मोर्चा खोल रखा था.

वो पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट के सदस्य भी थे, जो विपक्षी दलों का एक गठबंधन था जिसने इमरान खान प्रशासन को उखाड़ फेंकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. रहमान एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए भारत आने वाले थे.

पाकिस्तान के किसी बड़े नेता ने 2018 में भारत की अंतिम यात्रा की थी. तब वहां के अंतरिम कानून और न्याय मंत्री सैयद अली जफर ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर इस्लामाबाद का शोक प्रकट करने के लिए दिल्ली का दौरा किया था. यात्रा के दौरान, उन्होंने भारत की तत्कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की थी.

भारत ने दिया भुट्टो को जवाब

बिलावल भुट्टो की पीएम मोदी पर विवादित टिप्पणी पर विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा था कि पाकिस्तानियों से भारत की उम्मीदें कभी भी बहुत अधिक नहीं रही हैं. विदेश मंत्रालय ने बिलावल की टिप्पणियों को अभद्र बताया और कहा कि यह पाकिस्तान के लिए भी और निचले स्तर का है.

बिलावल की टिप्पणियों की कड़ी निंदा करते हुए विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा था कि अच्छा होता कि पाकिस्तान के विदेश मंत्री अपनी कुंठा अपने देश में आतंकवादी संगठनों के मुख्य षड्यंत्रकर्ताओं पर निकालते, जिन्होंने आतंकवाद को देश की नीति का एक हिस्सा बना दिया है.

बागची ने कहा कि पाकिस्तान एक ऐसा देश है जो ओसामा बिन लादेन का एक शहीद के रूप में महिमामंडन करता है और (जकीउर रहमान) लखवी, हाफिज सईद, मसूद अजहर, साजिद मीर तथा दाऊद इब्राहिम जैसे आतंकवादियों को पनाह देता है. कोई अन्य देश संयुक्त राष्ट्र द्वारा घोषित 126 आतंकवादी, संयुक्त राष्ट्र द्वारा घोषित 27 आतंकवादी समूह की मौजूदगी होने को लेकर शेखी नहीं बघार सकता.

आतंकवाद को समर्थन देने को लेकर, भारत के विदेश मंत्री द्वारा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक में पाकिस्तान पर करारा प्रहार करने के बाद बिलावल ने प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणी की थी.

ये भी पढ़ें

(भाषा इनपुट के साथ)

techo2life

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *