Maharashtra news governor bhagat singh koshyari chhatrapati shivaji amruta fadnavis uddhav thackeray | वे दिल से मराठी… शिवाजी पर विवाद के बीच अमृता फडणवीस ने किया राज्यपाल का समर्थन

राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की टिप्पणी पर उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस उनके समर्थन में उतर आई हैं. उन्होंने कहा कि मैं राज्यपाल को व्यक्तिगत रूप से जानती हूं.

वे दिल से मराठी... शिवाजी पर विवाद के बीच अमृता फडणवीस ने किया राज्यपाल का समर्थन

महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम की पत्नी अमृता फड़नवीस.

Image Credit source: Twitter (@fadnavis_amruta)

महाराष्ट्र में राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने छत्रपति शिवाजी पर बयान देने के चलते विवादों में घिरते नजर आ रहे हैं. इसी बीच उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस उनके पक्ष में खडी हो गई है. जिससे प्रदेश सरकार की दुविधा और बढ़ सकती है. वहीं, अमृता फडणवीस का कहना है कि कोश्यारी ‘दिल से मराठी माणूस हैं. उन्होंने कहा कि मैं राज्यपाल को व्यक्तिगत रूप से जानती हूं. उन्होंने महाराष्ट्र आने के बाद मराठी सीखी है.वह वास्तव में मराठी से प्यार करते हैं. मैंने खुद यह अनुभव किया है.

दरअसल, मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, दिनों राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने एक कार्यक्रम के दौरान छत्रपति शिवाजी को लेकर टिप्पणी की थी, जिसके बाद से विपक्षी पार्टी के नेता शिवसेना के उद्धव ठाकरे, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी चीफ शरद पवार समेत कई नेताओं ने इस बयान को लेकर कड़ी आपत्ति दर्ज कराई थी.

अमृता बोली- राज्यपाल दिल से हैं मराठी माणूस

वहीं, अमृता फडणवीस ने कहा कि ‘मैं राज्यपाल कोश्यारी को पर्सनल तौर पर जानती हूं. उन्होंने महाराष्ट्र आने के बाद मराठी सीखी है. वह वास्तव में मराठियों को चाहते हैं.यह मैंने अनुभव किया है. मगर,ऐसा कई बार हुआ है जब उन्होंने कुछ कहा और इसका कुछ अलग मतलब निकाल लिया गया. लेकिन, वे दिल से मराठी माणूस हैं.

पूर्व CM बोले- केंद्र सरकार अपना भेजा हुआ सामान ले वापस

इस बीच पूर्व सीएम उद्धव ठाकरे ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि यह राज्यपाल जो केंद्र सरकार द्वारा अमेजॉन के माध्यम से महाराष्ट्र भेजा गया एक पार्सल है.अगर वे उसे दो से पांच दिनों के भीतर वापस नहीं लेते हैं, तो राज्यव्यापी विरोध या बंद का आयोजन किया जाएगा. ऐसे में हम केंद्र सरकार से अनुरोध करेंगे कि अपना भेजा हुआ सामान वापस ले जाए. यदि जरुरत हो तो उसे वृद्धाश्रम में डाल दें, हमें राज्य में उसकी जरुरत नहीं है.

कोश्यारी ने छत्रपति शिवाजी पर दिया था विवादित बयान

बता दें कि, महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने पिछले दिनों एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और एनसीपी प्रमुख शरद पवार के सम्मान में कार्यक्रम आयोजित किया गया था. उस दौरान राज्यपाल ने कहा था, ‘पहले जब आपसे पूछा जाता था कि आपका आइकन कौन है,तो जवाब मिलता था कि जवाहरलाल नेहरू, सुभाष चंद्र बोस और महात्मा गांधी हुआ करते थे.

ये भी पढ़ें



उन्होने कहा कि आज महाराष्ट्र में आपको कहीं और देखने की जरूरत नहीं है. चूंकि, यहां पर बहुत सारे आइकान है. वहीं, महाराष्ट्र् में छत्रपति शिवाजी महाराज पुराने दिनों के आइकन हैं. हालांकि,अब प्रदेश में बीआर आंबेडकर और नितिन गडकरी आइकान हैं.

techo2life

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *