Kudhani by election Dahi Chuda in Bochaha fish rice in kudhani Sahni said nothing is tastier this | बोचहा में दही-चूड़ा के बाद अब कुढ़नी में मछली भात, सहनी ने कहा इससे स्वादिष्ट कुछ नहीं

मुकेश सहनी ने कहा है कि कुढ़नी में कहीं कोई गठबंधन नहीं है. यहां मछली (निषाद) और चावल (भूमिहार) साथ साथ हैं,. इससे वीआईपी की जीत सुनिश्चित है.

बोचहा में दही-चूड़ा के बाद अब कुढ़नी में मछली भात, सहनी ने कहा इससे स्वादिष्ट कुछ नहीं

दही-चूड़ा के बाद अब कुढ़नी में मछली भात

बिहार के बोचहा उपचुनाव में भूमिहार वोटर के आरजेडी के साथ जाने के दावे के बाद परशुराम जंयती के अवसर पर एक नारा खूब चर्चा में आया था. बाभन (भूमिहार-ब्राह्मण) का चूड़ा, यादव के दही, दुनू मिली तब बिहार में सब होई सही. इसके बाद एमएलसी चुनाव और मोकामा उपचुनाव में भी भूमिहार जाति के मतदाता का आरजेडी का खूब साथ मिला था. लेकिन अब जब भूमिहार बहुल कुढ़नी में उपचुनाव हो रहा है तब महागठबंधन ने कुशवाहा जाति के उम्मीदवार को मैदान में उतारा है.

इससे यहां भूमिहार उपेक्षित महसूस कर रहे हैं. इधर विकासशील इंसान पार्टी ने भूमिहारों की नाराजगी को भूनाते हुए इसी जाति के नीलाम कुमार को मैदान में उतारा है. नीलाभ कुमार कुढ़नी के चार बार विधायक रहे साधु सरण शाही के पोते हैं. नीलाम कुमार को मैदान में उतारने के बाद मुकेश सहनी ने यहां एक नया नारा दिया है. मछली भात, चूड़ा-दही के बाद मछली भात का यह नारा लोगों को खूब पसंद आ रहा है.

स्थानीय है VIP प्रत्याशी

कुढ़नी विधानसभा क्षेत्र में हो रहे उपचुनाव में नीलाम कुमार के लिए जनसंपर्क करने पहुंचे VIP प्रमुख ने मुकेश सहनी ने कहा कि कुढ़नी में कही कोई गठबंधन नहीं है, यहां मछली (निषाद) और चावल (भूमिहार) साथ साथ हैं, जिससे वीआईपी की जीत सुनिश्चित है. ‘सन ऑफ मल्लाह ‘ के नाम से चर्चित सहनी ने कहा कि वीआईपी ने कुढ़नी के स्थानीय नेता नीलाभ कुमार को टिकट दिया जबकि जेडीयू और बीजेपी के प्रत्याशी दूसरे इलाके के हैं. वीआईपी प्रत्याशी न केवल स्वच्छ छवि के हैं बल्कि युवा और कर्मठ हैं.

ये भी पढ़ें



मछली-चावल साथ तो भोजन स्वादिष्ट होगा ही

उन्होंने कहा कि उनके दादा स्वर्गीय साधु शरण शाही चार बार कुढ़नी से विधायक रहे हैं. वह स्वतंत्रता सेनानी थे और कुढ़नी से निर्दलीय भी जीते थे. बाकी उम्मीदवार बाहर के हैं,लेकिन हमारे उम्मीदवार स्थानीय हैं.उन्होंने कहा कि कोरोना के दौरान जब सभी लोग एक दूसरे के पास जाने से डरते थे, हमारे प्रत्याशी उस दौर में भी अपने क्षेत्र में लोगों के बीच थे उनके लिए काम कर रहे थे. यहां जीत का दावा करते हुए मुकेश सहनी ने कहा जब मछली और चावल साथ है तो भोजन तो स्वादिष्ट होगा ही

techo2life

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *