Know the health benefits of multi grain or mota anaj ke fayde in Hindi | गेहूं के बजाय मोटे अनाज को बनाए रूटीन का हिस्सा, एक्सपर्ट से जानें फायदे

TV9 Bharatvarsh | Edited By: मनीष रेसवाल

Updated on: Dec 20, 2022 | 1:15 PM IST

भारत में अमूमन हर घर में गेंहू के आटे से बनी रोटी खाई जाती है. लेकिन अगर मोटे अनाज यानी ज्वार, बाजरा, मक्का, रागी से बने आटे को खाने से दोगुने फायदे हासिल किए जा सकते हैं. दिल्ली में वरिष्ठ फिजिशियन डॉ कमलजीत सिंह कैंथ बता रहे हैं इसके फायदे..

गेहूं के आटे की जगह अगर ज्वार, बाजरा, मक्का और रागी से बनने वाले मोटे अनाज का सेवन करके सेहतमंद रहना आसान होता है. यहां हम आपको एक्सपर्ट की मदद से बताने जा रहे हैं कि किस तरह मोटा अनाज नॉर्मल आटे से बेहतर होता है.

गेहूं के आटे की जगह अगर ज्वार, बाजरा, मक्का और रागी से बनने वाले मोटे अनाज का सेवन करके सेहतमंद रहना आसान होता है. यहां हम आपको एक्सपर्ट की मदद से बताने जा रहे हैं कि किस तरह मोटा अनाज नॉर्मल आटे से बेहतर होता है.

पेट को स्वस्थ रखने के लिए फाइबर का इंटेक जरूरी है और मोटे अनाज का सबसे बड़ा फायदा है कि इसमें इस न्यूट्रिएंट्स की मात्रा ज्यादा होती है. पेट को हेल्दी रखने के लिए मल्टी ग्रेन को रूटीन में शामिल करें. वैसे कुछ लोग इसमें चावल को भी शामिल करते हैं.

पेट को स्वस्थ रखने के लिए फाइबर का इंटेक जरूरी है और मोटे अनाज का सबसे बड़ा फायदा है कि इसमें इस न्यूट्रिएंट्स की मात्रा ज्यादा होती है. पेट को हेल्दी रखने के लिए मल्टी ग्रेन को रूटीन में शामिल करें. वैसे कुछ लोग इसमें चावल को भी शामिल करते हैं.

डॉ. कैंथ बताते हैं कि इसमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम होती है. मोटे अनाज का रोजाना सेवन करने से हाई बीपी और दिल संबंधित समस्याएं हमसे दूर रहती हैं.

डॉ. कैंथ बताते हैं कि इसमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम होती है. मोटे अनाज का रोजाना सेवन करने से हाई बीपी और दिल संबंधित समस्याएं हमसे दूर रहती हैं.

डॉ. कैंथ कहते हैं कि मोटे अनाज को नियमित रूप से डाइट में शामिल करने से शरीर एक्टिव रहता है और कई बैक्टीरिया जनित बीमारियों का रिस्क भी कम होता है.

डॉ. कैंथ कहते हैं कि मोटे अनाज को नियमित रूप से डाइट में शामिल करने से शरीर एक्टिव रहता है और कई बैक्टीरिया जनित बीमारियों का रिस्क भी कम होता है.

डॉ. कैंथ के अनुसार मोटा अनाज हड्डियों के लिए भी फायदेमंद होता है, क्योंकि इसमें प्रोटीन, कैल्शियम जैसे पोषक तत्व काफी मात्रा में पाए जाते हैं. बच्चों और बुजुर्गों को मोटे अनाज से बनाए जाने वाले आटे का सेवन जरूर करना चाहिए.

डॉ. कैंथ के अनुसार मोटा अनाज हड्डियों के लिए भी फायदेमंद होता है, क्योंकि इसमें प्रोटीन, कैल्शियम जैसे पोषक तत्व काफी मात्रा में पाए जाते हैं. बच्चों और बुजुर्गों को मोटे अनाज से बनाए जाने वाले आटे का सेवन जरूर करना चाहिए.


Most Read Stories

techo2life

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *