Jhulan Goswami birthday journey to the top has been built on pure passion and world records | Happy Birthday Jhulan Goswami: कैसे एक विश्व कप मुकाबले ने भारत को दी ‘वर्ल्ड क्लास’ बॉलर

भारतीय महिला टीम की पूर्व तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी आज यानी 25 नवंबर को अपना 40वां जन्मदिन मना रही हैं.

TV9 Bharatvarsh | Edited By: रिया कसाना

Updated on: Nov 25, 2022, 6:00 AM IST

भारत में अगर पिछले दो दशक में किसी ने महिला क्रिकेट का एक भी मैच देखा है तो उसके लिए झूलन गोस्वामी का नाम अनजाना नहीं हो सकता. झूलन ने क्रिकेट की दुनिया के न जाने कितने रिकॉर्ड तोड़े और कायम किए. आज यानि 25 नवंबर को यह खिलाड़ी अपना 40वां जन्मदिन मना रही हैं. जानिए उनके करियर की सबसे बड़ी कामयाबी. (Getty Images)

भारत में अगर पिछले दो दशक में किसी ने महिला क्रिकेट का एक भी मैच देखा है तो उसके लिए झूलन गोस्वामी का नाम अनजाना नहीं हो सकता. झूलन ने क्रिकेट की दुनिया के न जाने कितने रिकॉर्ड तोड़े और कायम किए. आज यानि 25 नवंबर को यह खिलाड़ी अपना 40वां जन्मदिन मना रही हैं. जानिए उनके करियर की सबसे बड़ी कामयाबी. (Getty Images)

झूलन गोस्वामी का जन्म 25 नवंबर 1982 को पश्चिम बंगाल के नादिया में एक माध्यम वर्ग से ताल्लुक रखने वाले परिवार में हुआ था. साल 1992 के महिला वर्ल्ड कप का फाइनल देखने झूलन ईडन गार्डन्स गईं थी और इस एक मुकाबले ने उनकी जिंदगी को बदल रख कर दिया और उन्होंने क्रिकेटर बनने का फैसला किया.  (Getty Images)

झूलन गोस्वामी का जन्म 25 नवंबर 1982 को पश्चिम बंगाल के नादिया में एक माध्यम वर्ग से ताल्लुक रखने वाले परिवार में हुआ था. साल 1992 के महिला वर्ल्ड कप का फाइनल देखने झूलन ईडन गार्डन्स गईं थी और इस एक मुकाबले ने उनकी जिंदगी को बदल रख कर दिया और उन्होंने क्रिकेटर बनने का फैसला किया. (Getty Images)

झूलन चकदा से रोजाना सुबह 4.30 बजे उठकर 80 किमी का सफर लोकल ट्रेन से कोलकाता जातीं वहीं प्रैक्टिस करतीं और फिर घर लौटतीं. लगातार मेहनत के बाद साल 2022 में उन्हें वनडे डेब्यू का मौका मिला. इसके बाद अगले 20 सालों तक वह टीम इंडिया की जान बनी रही और भारत में महिला क्रिकेट का बड़ा चेहरा बन गई. (Getty Images)

झूलन चकदा से रोजाना सुबह 4.30 बजे उठकर 80 किमी का सफर लोकल ट्रेन से कोलकाता जातीं वहीं प्रैक्टिस करतीं और फिर घर लौटतीं. लगातार मेहनत के बाद साल 2022 में उन्हें वनडे डेब्यू का मौका मिला. इसके बाद अगले 20 सालों तक वह टीम इंडिया की जान बनी रही और भारत में महिला क्रिकेट का बड़ा चेहरा बन गई. (Getty Images)

अंतरराष्ट्रीय महिला क्रिकेट में सर्वाधिक विकेट (355) लेने का रिकॉर्ड झूलन के नाम ही दर्ज है. वह वनडे में 250 या उससे अधिक विकेट लेने वाली वह दुनिया की पहली और इकलौती महिला क्रिकेटर हैं. वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा 43 विकेट लेना का रिकॉर्ड भी उन्हीं के नाम हैं. महिला क्रिकेट में ज्यादा मेडन ओवर भी उन्होंने ही डाले हैं. (Getty Images)

अंतरराष्ट्रीय महिला क्रिकेट में सर्वाधिक विकेट (355) लेने का रिकॉर्ड झूलन के नाम ही दर्ज है. वह वनडे में 250 या उससे अधिक विकेट लेने वाली वह दुनिया की पहली और इकलौती महिला क्रिकेटर हैं. वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा 43 विकेट लेना का रिकॉर्ड भी उन्हीं के नाम हैं. महिला क्रिकेट में ज्यादा मेडन ओवर भी उन्होंने ही डाले हैं. (Getty Images)

झूलन गोस्वामी के अंतरराष्ट्रीय करियर की बात करें तो उन्होंने टेस्ट में 12 मैचों में 44 विकेट हासिल किए हैं. जबकि वनडे में उन्होंने 204 मैचों में 255 विकेट अपने नाम किए. इसके अलावा टी20 में भी उन्होंने 68 मैचों में 56 विकेट अपने खाते में डाले. एक टेस्ट मुकाबले में 10 विकेट लेने वाली वह सबसे युवा खिलाड़ी बनी थीं. (Getty Images)

झूलन गोस्वामी के अंतरराष्ट्रीय करियर की बात करें तो उन्होंने टेस्ट में 12 मैचों में 44 विकेट हासिल किए हैं. जबकि वनडे में उन्होंने 204 मैचों में 255 विकेट अपने नाम किए. इसके अलावा टी20 में भी उन्होंने 68 मैचों में 56 विकेट अपने खाते में डाले. एक टेस्ट मुकाबले में 10 विकेट लेने वाली वह सबसे युवा खिलाड़ी बनी थीं. (Getty Images)

मिताली राज के बाद झूलन गोस्वामी पहली महिला क्रिकेट खिलाड़ी हैं, जिनके जीवन पर आधारित फिल्म बनाई जा रही है. इस बायोपिक की शूटिंग शुरू हो चुकी है. फिल्म में झूलन का किरदार अनुष्का शर्मा झूलन गोस्वामी का किरदार निभा रही हैं. (Getty Images)


Most Read Stories

techo2life

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *