If Delhis Schools Are Fixed, The Mountains Of Garbage Will Also Be Fixed: Arvind Kejriwal – NDTV Townhall में अरविंद केजरीवाल: दिल्ली के स्कूल ठीक कर दिए तो कूड़े के पहाड़ भी ठीक हो जाएंगे

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल एनडीटीवी एक्सक्लूसिव टाउनहॉल में दिल्ली के कचरा प्रबंधन मुद्दे और यमुना प्रदूषण सहित कई विषयों पर बात की. एनडीटीवी टाउनहॉल में अरविंद केजरीवाल ने इंटरव्यू में दिल्ली के नगर निगम चुनाव के विभिन्न मुद्दों को लेकर कई बातें कहीं. 

केजरीवाल ने कहा कि आम आदमी पार्टी पर दिल्ली के लोगों को भरोसा है. उन्होंने कहा कि एमसीडी में भ्रष्टाचार है, हर काम के लिए पैसा लगता है. एमसीडी में सारे काम बिना पैसे के होंगे. 

उन्होंने कहा कि एमसीडी से व्यापारी दुखी हैं. व्यापारियों के लिए एमसीडी के सारे काम ऑनलाइन कर देंगे, जैसे दिल्ली सरकार में होता है. उन्होंने कहा कि, रेहड़ी पटरी वालों से पैसे लिए जाते हैं. यह बंद होगा. शहर में वेंडिंग जोन बनाएंगे, सबको लाइसेंस देंगे. केजरीवाल ने कहा कि, हर महीने के पहले हफ्ते में एमसीडी के कर्मचारी के खाते में तनख्वाह आ जाएगी. 

दिल्ली में कूड़े के पहाड़ कैसे हटेंगे? इस सवाल पर अरविंद केजरीवाल ने कहा कि, मैं सोच समझकर बात करता हूं. जब दिल्ली में हमारी सरकार आई थी तो पहले कहा जाता था कि सरकारी स्कूल कैसे ठीक करोगे? स्कूल ठीक कर दिए तो कूड़े के पहाड़ भी ठीक हो जाएंगे. लोग चांद पर पहुंच गए तो ये तो कूड़े के पहाड़ हैं. 

उन्होंने कहा कि शहर में नया कूड़ा इकट्ठा न हो, इसकी व्यवस्था की जाएगी. उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार बनने के बाद यमुना की सफाई के लिए पांच साल का समय मांगा था. 2025 में  पांच साल पूरे होंगे तब यमुना में डुबकी लगाकर दिखाऊंगा.

केजरीवाल ने कहा कि, पिछले सात सालों में हमने बहुत काम किया है. हमने अपने वादे पूरे किए हैं, शिक्षा में सुधार किया है, मोहल्ला क्लीनिक बनाए हैं, अस्पतालों को बेहतर बनाया है. हमने दिल्ली में अच्छा काम किया है. लोगों ने हमसे जो भी अपेक्षा की थी, हमने उसे पूरा किया है. हमने शिक्षा, स्वास्थ्य सेवा पर अच्छा काम किया है.

एमसीडी चुनाव को लेकर उन्होंने कहा कि, हम विश्वास दिलाते हैं कि हम वहां भी अच्छा काम करेंगे. हम दिल्ली को साफ करेंगे और एमसीडी में व्याप्त भ्रष्टाचार को भी दूर करेंगे. 

केजरीवाल ने कहा कि, पिछले पांच साल में दिल्ली सरकार ने एमसीडी को एक लाख करोड़ रुपये दिए हैं. कृपया भाजपा से पूछें कि यह सब कहां गया. सब चले गए, वे बहुत लालची हैं. उन्होंने कहा कि, हम छोटे-छोटे अतिक्रमणों को नियमित करेंगे ताकि लोग तनाव मुक्त रह सकें. हम अतिक्रमण के आधार पर एक छोटा जुर्माना लगा सकते हैं. हमरा अच्छा काम करने का इरादा है. हमारी नीयत साफ है. 

दिल्ली की आबोहवा खराब होने के पीछे बीजेपी आम आदमी पार्टी को जिम्मेदार ठहराती है. इस मुद्दे पर अरविंद केजरीवाल ने कहा कि, हम पंजाब में पराली जलाने की जिम्मेदारी को स्वीकार करते हैं. हम इस पर काम करेंगे. किसानों को विकल्प चाहिए, उन्हें समाधान चाहिए. अगर उन्हें एक कोई विकल्प मिल जाए तो वे पराली जलाना बंद कर देंगे. पंजाब सरकार कुछ करेगी, हम कुछ करेंगे.

उन्होंने कहा कि, प्रदूषण एक राष्ट्रीय समस्या है, बिहार में, यूपी में, कई और जगहों पर प्रदूषण है. लेकिन केंद्र सरकार इस बारे में कुछ नहीं करती. अगर वे केवल प्रदूषण पर राजनीति करते हैं और उंगली उठाते हैं तो इससे कुछ हासिल नहीं होगा. जब हम उनके पास जाते हैं, तो वे हमारे लिए दरवाजे बंद कर देते हैं.

केजरीवाल ने कहा कि, एमसीडी के कर्मचारियों को छह माह से वेतन नहीं मिला है. वे विरोध करते रहते हैं. हम यह सुनिश्चित करेंगे कि उन्हें हर महीने की पहली तारीख को वेतन मिले. यह मेरी गारंटी है.

केजरीवाल ने कहा कि, बीजेपी हम पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाती रहती है, उन्हें कुछ नहीं मिला, एक पैसा नहीं. उन्होंने मनीष सिसोदिया पर हमला किया, उनके तकिए और गद्दे फाड़ दिए, एक पैसा नहीं मिला. पिछले सात वर्षों में उन्होंने ‘आप’ नेताओं के खिलाफ 167 मामले दर्ज किए हैं, अदालत में एक भी साबित नहीं हुआ है. जांच एजेंसी के 800 अधिकारी केवल ‘आप’ द्वारा एक पैसे के गलत काम को खोजने के लिए जुटे हैं. उन्हें कुछ नहीं मिला है.

उन्होंने कहा कि मोदी जी भी फ्री की रेवड़ी देते हैं, मैं भी फ्री की रेवड़ी देता हूं. मोदी जी अमीरों के लिए करते हैं, मैं जनता के लिए करता हूं. बड़े कर्जदारों को बंद दरवाजों के पीछे माफ कर रहे हैं, क्या यह फ्री की रेवड़ी नहीं है? मैं इसे खुले तौर पर लोगों के लाभ के लिए करता हूं.

       

केजरीवाल ने कहा कि, अच्छे स्कूल और अस्पताल मुहैया कराना मुफ्त की रेवड़ी नहीं है… ऐसे कामों को हिंदू धर्म में “पुण्य” कहा जाता है.

Featured Video Of The Day

अशोक गहलोत के बयानों पर कुछ भी बोलने से जयराम रमेश ने किया इनकार

techo2life

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *