FIFA World Cup 1950 Brazil vs Uruguay virtual Final match result in Maracana Football stadium result | जब बिना फाइनल जीते उरुग्वे बना चैंपियन, FIFA World Cup इतिहास का सबसे अनोखा मुकाबला

फीफा वर्ल्ड कप 1950 का आयोजन ब्राजील में हुआ था और करीब 2 लाख घरेलू फैंस की मौजूदगी में ब्राजील खिताब के करीब आकर पहली बार चैंपियन बनने से चूक गया था.

TV9 Bharatvarsh | Edited By: सुमित सुन्द्रियाल

Updated on: Nov 18, 2022, 6:30 AM IST

माहौल बन चुका है, महफिल भी सज चुकी है…बस इंतजार है तो कार्यक्रम शुरू होने का. 20 नवंबर को उसकी शुरुआत भी हो जाएगी. विश्व के सबसे लोकप्रिय खेल फुटबॉल का सबसे बड़ा महाकुंभ यानी फीफा वर्ल्ड कप 2022 रविवार से कतर में शुरू हो रहा है. अब विश्व कप का मौका है तो कुछ पुराने मुकाबलों को याद किया जाना लाजिमी है. ऐसा ही एक मुकाबला 72 साल पहले हुआ था. ऐसा विश्व कप और ऐसा खिताबी मुकाबला फिर कभी नहीं हुआ. (Photo: FIFA)

माहौल बन चुका है, महफिल भी सज चुकी है…बस इंतजार है तो कार्यक्रम शुरू होने का. 20 नवंबर को उसकी शुरुआत भी हो जाएगी. विश्व के सबसे लोकप्रिय खेल फुटबॉल का सबसे बड़ा महाकुंभ यानी फीफा वर्ल्ड कप 2022 रविवार से कतर में शुरू हो रहा है. अब विश्व कप का मौका है तो कुछ पुराने मुकाबलों को याद किया जाना लाजिमी है. ऐसा ही एक मुकाबला 72 साल पहले हुआ था. ऐसा विश्व कप और ऐसा खिताबी मुकाबला फिर कभी नहीं हुआ. (Photo: FIFA)

ये मुकाबला था वर्ल्ड कप 1950 का, जब ब्राजील में टूर्नामेंट का आयोजन हुआ था और उरुग्वे ने बिना फाइनल जीते या कहें बिना फाइनल खेले ही मेजबान ब्राजील को पछाड़ते हुए विश्व कप जीत लिया था. उरुग्वे दूसरी बार चैंपियन बना था. लेकिन सवाल है कि बिना फाइनल के चैंपियन कैसे? (Photo: FIFA)

ये मुकाबला था वर्ल्ड कप 1950 का, जब ब्राजील में टूर्नामेंट का आयोजन हुआ था और उरुग्वे ने बिना फाइनल जीते या कहें बिना फाइनल खेले ही मेजबान ब्राजील को पछाड़ते हुए विश्व कप जीत लिया था. उरुग्वे दूसरी बार चैंपियन बना था. लेकिन सवाल है कि बिना फाइनल के चैंपियन कैसे? (Photo: FIFA)

इसका जवाब असल में है उस टूर्नामेंट का फॉर्मेट. असल में 1950 के विश्व कप में सिर्फ 13 टीमें थीं. आज 32 टीमें खेलती हैं. तब इन टीमों को 4 ग्रुप में बांटा गया था, जिसमें दो ग्रुप में 4-4 टीमें थीं, जबकि एक में तीन और आखिरी ग्रुप में उरुग्वे समेत कुल 2 टीमें थीं. इन चारों ग्रुप से एक-एक टीम अगले राउंड में गईं. (Photo: Screenshot/FIFA)

इसका जवाब असल में है उस टूर्नामेंट का फॉर्मेट. असल में 1950 के विश्व कप में सिर्फ 13 टीमें थीं. आज 32 टीमें खेलती हैं. तब इन टीमों को 4 ग्रुप में बांटा गया था, जिसमें दो ग्रुप में 4-4 टीमें थीं, जबकि एक में तीन और आखिरी ग्रुप में उरुग्वे समेत कुल 2 टीमें थीं. इन चारों ग्रुप से एक-एक टीम अगले राउंड में गईं. (Photo: Screenshot/FIFA)

इसका अगला राउंड ही निर्णायक राउंड था. इसमें पहुंची चार टीमों के बीच राउंड रॉबिन फॉर्मेट में मुकाबले हुए. यानी हर टीम बाकी टीमों से एक-एक बार भिड़ी. हर टीम को जीत पर 2 पॉइंट मिलते थे. फॉर्मेट असल में ऐसा था कि राउंड के सभी मैच खत्म होने पर सबसे ज्यादा पॉइंट वाली टीम चैंपियन बनती.

इसका अगला राउंड ही निर्णायक राउंड था. इसमें पहुंची चार टीमों के बीच राउंड रॉबिन फॉर्मेट में मुकाबले हुए. यानी हर टीम बाकी टीमों से एक-एक बार भिड़ी. हर टीम को जीत पर 2 पॉइंट मिलते थे. फॉर्मेट असल में ऐसा था कि राउंड के सभी मैच खत्म होने पर सबसे ज्यादा पॉइंट वाली टीम चैंपियन बनती.

संयोग से इस राउंड के आखिरी मैच में ब्राजील और उरुग्वे की टक्कर हुई, जो पॉइंट्स टेबल में पहले और दूसरे स्थान पर थे. ब्राजील को पहली बार खिताब जीतने के लिए सिर्फ 1 ड्रॉ की जरूरत थी, जबकि उरुग्वे को हर हाल में जीत चाहिए थी. इस तरह ये मुकाबला तकनीकी तौर पर फाइनल न होते हुए भी एक फाइनल में तब्दील हो गया. (Photo: FIFA)

संयोग से इस राउंड के आखिरी मैच में ब्राजील और उरुग्वे की टक्कर हुई, जो पॉइंट्स टेबल में पहले और दूसरे स्थान पर थे. ब्राजील को पहली बार खिताब जीतने के लिए सिर्फ 1 ड्रॉ की जरूरत थी, जबकि उरुग्वे को हर हाल में जीत चाहिए थी. इस तरह ये मुकाबला तकनीकी तौर पर फाइनल न होते हुए भी एक फाइनल में तब्दील हो गया. (Photo: FIFA)

ब्राजील की तत्कालीन राजधानी रियो डि जेनेरो के मशहूर माराकाना स्टेडियम में करीब 2 लाख दर्शकों की मौजूदगी में हुए इस मुकाबले में उरुग्वे ने दूसरे हाफ में दो गोल दागते हुए ब्राजील को 2-1 से हराया और घरेलू फैंस का दिल तोड़ते हुए दूसरी बार विश्व कप का खिताब अपने नाम किया. (Photo: FIFA)

ब्राजील की तत्कालीन राजधानी रियो डि जेनेरो के मशहूर माराकाना स्टेडियम में करीब 2 लाख दर्शकों की मौजूदगी में हुए इस मुकाबले में उरुग्वे ने दूसरे हाफ में दो गोल दागते हुए ब्राजील को 2-1 से हराया और घरेलू फैंस का दिल तोड़ते हुए दूसरी बार विश्व कप का खिताब अपने नाम किया. (Photo: FIFA)


Most Read Stories

techo2life

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *