European Union announce 5G service in flights EU nations | फ्लाइट में नेट का इस्तेमाल…वो भी 5G के साथ! यूरोपियन यूनियन ने किया बड़ा ऐलान

फ्लाइट में 5G सर्विस यात्रियों के नेटवर्क कनेक्शन को मजबूत और बेहतर बनाने के अलावा और भी बहुत कुछ करेगा. फ्लाइट में बैठे-बैठे लोग देश-दुनिया से जुड़े रहेंगे और डेटा से चलने वाली सभी सुविधाओं का लाभ उठा सकेंगे.

EU मेंबर देशों में आने वाली और यहां से जाने वाली फ्लाइट्स में एयरलाइंस अब पुरानी मोबाइल टेक्नोलॉजी जनरेशन के साथ-साथ लेटेस्ट 5G टेक्नोलॉजी प्रदान कर पाएंगी. यूरोपियन यूनियन ने इसकी घोषणा की है. यूरोपीय आयोग ने एक बयान में बताया कि इसका मतलब यह होगा कि यात्री अब अपने रिश्तेदारों को फोन कॉल और टेक्स्ट मैसेज भेज सकेंगे और उनके कॉल और मैसेज भी रिसीव कर सकेंगे. कुल मिलाकर वह फ्लाइट में डेटा का इस्तेमाल कर सकेंगे. यूरोपीय आयोग ने ऑन-बोर्ड एयरक्राफ्ट मोबाइल कम्युनिकेशन के लिए स्पेक्ट्रम पर पहले लागू फैसले को अपडेट किया है, जिसके बाद यह फैसला सामने आया है.

यूरोपीय संघ ने कहा कि 5G सर्विस स्पेशल नेटवर्क वाले उपकरण का इस्तेमाल करके प्रदान की जाएगी, जिसे ‘पिको-सेल’ कहा जाता है. ये इन-फ्लाइट नेटवर्क को एक सैटेलाइट के जरिए जमीन से जोड़ने का काम करता है. बयान में कहा गया है कि यूरोपीय संघ के सदस्यों देशों में उड़ान भरने वाले यात्री अपनी क्षमता और सुविधाओं के मुताबिक अपने मोबाइल फोन का इस्तेमाल करने में सक्षम होंगे. इंटरनल मार्केट के लिए यूरोपीय काउंसिल के कमिश्नर थिएरी ब्रेटन ने कहा, ‘5G सर्विस लोगों के लिए नई सेवाओं और यूरोपीय कंपनियों के विकास के अवसरों को सक्षम बनाएगा.

फ्लाइट में नेटवर्क कनेक्शन को मिलेगी मजबूती

उन्होंने कहा, ‘सुपर-फास्ट, हाई-कैपेबिलिटी कनेक्टिविटी द्वारा दी जाने वाली सेवाएं की बात करें तो इसकी अब कोई लिमिट नहीं रह गई है. 5G को 4G LTE की तुलना में न सिर्फ तेज, बल्कि बेहतर मोबाइल ब्रॉडबैंड सर्विस देने के लिए डिज़ाइन किया गया है. फ्लाइट में 5G सर्विस यात्रियों के नेटवर्क कनेक्शन को मजबूत और बेहतर बनाने के अलावा और भी बहुत कुछ करेगा. फ्लाइट में बैठे-बैठे लोग देश-दुनिया से जुड़े रहेंगे और डेटा से चलने वाली सभी सुविधाओं का लाभ उठा सकेंगे.

ये भी पढ़ें



रोड ट्रांसपोर्ट के लिए भी 5G सर्विस!

यूरोपीय आयोग (EC) ने इन-फ्लाइट कनेक्टिविटी के साथ-साथ रोड ट्रांसपोर्ट के लिए भी 5G कवरेज देने में काफी प्रगति हासिल की है. दोनों ही क्षेत्रों में इस पहल से नई सुविधाएं प्रदान करने के अवसर बढ़ेंगे. आयोग ने 2008 से फ्लाइट पर मोबाइल कम्युनिकेशन के लिए कुछ फ्रीक्वेंसी को रिजर्व करने के लिए रेगुलेशन बनाए रखा है. रोड ट्रांसपोर्ट में 5GHz बैंड में 5G सर्विस को लागू करने का फैसला लिया है, इससे कारों और बसों में वाई-फाई सेवाएं और सक्षम रहेंगी.

techo2life

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *