Durg News Diarrhea Kills Two In Chhattisgarh Bhilai 42 Hospitalized | भिलाई में डायरिया का कहर, गंदा पानी पीने से 2 बच्चों की मौत, 42 से ज्यादा लोग अस्पताल में भर्ती

दुर्ग कलेक्टर ने बताया कि भिलाई नगर निगम के तहत डायरिया की समस्या सामने आई है, जिसमें से 42 लोगों को अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. जबकि दो लोगों की मौत हो चुकी है.

भिलाई में डायरिया का कहर, गंदा पानी पीने से 2 बच्चों की मौत, 42 से ज्यादा लोग अस्पताल में भर्ती

भिलाई में डायरिया से दो लोगों की हुई मौत.

Image Credit source: (सांकेतिक तस्वीर)

छत्तीसगढ़ के भिलाई में हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है. जहां पर डायरिया होने से दो लोगों की मौत हो गई है, जबकि जबकि 42 लोगों को अस्पताल में एडमिट कराया गया है. हालांकि, इस मामले पर स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि इन सभी ने कथित तौर पर गंदा पानी पिया था. वहीं, जिले के सीएमओ और स्वास्थ्य टीम प्रभावित इलाकों का दौरा करने पहुंच गई है. इस दौरान डायरिया होने की जानकारी मिलने पर नगर निगम आयुक्त सहित जिला कलेक्टर मौके पर पहुंचे है. कलेक्टर ने इस हादसे के लिए अमृत मिशन योजना में की गई लापरवाही को दोषी बताया है.

दरअसल, मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक , ये मामला दुर्ग जिले के भिलाई नगर निगम का है. जहां दुर्ग कलेक्टर का कहना है कि तकरीबन 5 साल पहले अमृत मिशन योजना के तहत ज्यादातर कॉलोनियों में नालों के साथ-साथ पेयजल पाइपलाइन बिछाई गई थी. ऐसे में कभी-कभार सीवर और नाले के पास होने के कारण बैक्टीरिया इन पाइपलाइनों में घुस जाते हैं. साथ ही उन्होंने बताया कि शहर के अन्य अस्पतालों में भी मरीजों को भर्ती कराया गया है.

कलेक्टर बोले- डायरिया के चलते 2 लोगों की हुई मौत

वहीं, जिला कलेक्टर ने बताया कि भिलाई नगर निगम के तहत डायरिया की समस्या सामने आई है, जिसमें 42 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जबकि, दो लोगों की मौत हो चुकी है. फिलहाल, उनकी मेडिकल रिपोर्ट चेक की जा रही है. हालांकि, शुरुआती जांच में ऐसा लग रहा है कि डायरिया के चलते उनकी मौत हुई है.

ये भी पढ़ें



निगम के पानी से उल्टी-दस्त की आ रही शिकायत

शहर में डायरिया फैलने की सूचना के बाद से नगर निगम भिलाई में हड़कंप मचा हुआ है. सीएमओ समेत महापौर और कमिश्नर सहित आला अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं. जानकारी के अनुसार, डायरिया संक्रमित इस इलाके में काफी लंबे समय से गंदे पानी की सप्लाई की जा रही है. हालांकि, स्थानीय लोगों का कहना है कि जो लोग बोर का पानी पी रहे हैं उनके घर में कोई बीमार नहीं पड़ा है. ऐसे में नगर निगम के नल से पानी पीने वाले हर दूसरे घर में लोग उल्टी, दस्त की शिकायत से परेशान चल रहे हैं.

techo2life

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *