BL Agro a bareilly based company bail kolhu brand FMCG sector ghanshyam khandelwal | 13 राज्यों के 200 शहरों में छाने वाली कंपनी बीएल एग्रो की कहानी, FMCG सेक्टर में गाड़ा झंडा

घनश्याम खंडेलवाल ने 1983 में बैल कोल्हू सरसों तेल लॉन्च किया. तेल की क्वालिटी का सबसे बेहतर बनाने के लिए उन्होंने खुद इसपर रिसर्च करना शुरू किया और लगभग 4 साल तक इसकी क्वालिटी पर काम करते रहे.

13 राज्यों के 200 शहरों में छाने वाली कंपनी बीएल एग्रो की कहानी, FMCG सेक्टर में गाड़ा झंडा

सरसो का तेल बैल कोल्‍हू, सांकेतिक फोटो

उत्तर प्रदेश के एक छोटे से शहर बरेली की कंपनी बीएल एग्रो इस समय देशभर में छाई है. देखते ही देखते वह 13 राज्यों के 200 शहरों में अपनी छाप छोड़ने में कामयाब रही. इस कामयाबी को लेकर कंपनी का कहना है कि वह कम्पटीशन की बजाय लोगों तक क्वालिटी प्रोडक्ट पहुंचाने में विश्वास रखती है. कंपनी का कहना है कि क्वालिटी प्रोडक्ट मिलने से लोगों का स्वास्थ्य ठीक रहता है. जिसके कारण ब्रांड पर लोगों का भरोसा बढ़ता है. बीएल एग्रो आज देश की दिग्गज एफएमसीजी कंपनियों में से एक है. इसका सरसो तेल बैल कोल्हू काफी चर्चित ब्रांड है. इस समय बीएल एग्रो का टर्नओवर 3100 करोड़ रुपये का है.

बता दें कि किशन लाल खंडेलवाल और बिशन लाल खंडेलवाल ने कमोडिटी ट्रेडिंग बिजनेस के तौर पर 1940 में बीएल एग्रो इंडस्ट्रीज लिमिटेड की नींव रखी थी. इसके बाद 1976 में नई पीढ़ी के घनश्याम खंडेलवाल इस व्यापार से जुड़े और उन्होंने इनोवेशन के साथ इस व्यापार को नई दिशा दी. घनश्याम अभी कंपनी के चेयरमैन हैं. उन्होंने व्यापार के साथ साथ मैन्युफैक्चरिंग पर भी ध्यान दिया और आज उनकी मेहनत से ही यह जनता के बीच जाना पहचाना ब्रांड बनकर उभरा. जब घनश्याम इस व्यापार से जुड़े तो देश में खाने पीने के सामान के बहुत कम ब्रांड थे. कोई क्वालिटी पर विशेष ध्यान नहीं देता था. लेकिन उन्होंने इसे ही अपना अचूक हथियार बनाया. आज अपने इसी हथियार की बदौलत वह इतनी बड़ी कंपनी खड़ी कर पाए हैं.

बैल कोल्हू में मचाया तहलका

घनश्याम खंडेलवाल ने 1983 में बैल कोल्हू सरसों तेल लॉन्च किया. तेल की क्वालिटी का सबसे बेहतर बनाने के लिए उन्होंने खुद इसपर रिसर्च करना शुरू किया और लगभग 4 साल तक इसकी क्वालिटी पर काम करते रहे. 1986 में इसका ट्रेडमार्क हुआ और आज यह देश के सबसे चर्चित प्रोडक्ट में से एक है.

बैल कोल्हू के साथ ही कंपनी ने कई किस्म के रिफाइंड तेल भी बाजार में उतारे. वहीं, ‘नरिश’ ब्रांड नाम से आटा, चावल, दाल, घी, तेल, मेवा, पापड़, अचार, मुरब्बा, मसाले और रेडी टू कुक प्रोडक्ट भी बाजार में उतारा. हालांकि कंपनी का सबसे चर्चित ब्रांड बैल कोल्हू सरसो तेल है.

1,25,000 से अधिक रिटेलर्स के माध्यम से बीएल एग्रो की 13 राज्यों के 200 शहरों में मौजूदगी है. नरिश ब्रांड के तहत कंपनी के 14 आउटलेट हैं. इस कंपनी में लगभग 3500 लोग काम करते हैं और पिछले साल कंपनी का टर्नओवर लगभग 3100 करोड़ रुपये का था. कंपनी की सभी 8 मैन्युफैक्चरिंग यूनिट बरेली में ही हैं.

techo2life

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *