Ashish nehra will be a good coach indian cricket team t20 format find out why 4 reasons | नेहरा क्या टी20 में द्रविड़ से बेहतर हेड कोच साबित होंगे? जानिए 4 बड़ी खासियत

हरभजन सिंह ने आशीष नेहरा को भारतीय टी20 टीम के कोचिंग स्टाफ में जगह देने की बात कही है. क्या ये पूर्व तेज गेंदबाज सच में द्रविड़ से बेहतर साबित होगा?

नेहरा क्या टी20 में द्रविड़ से बेहतर हेड कोच साबित होंगे? जानिए 4 बड़ी खासियत

आशीष नेहरा कोच बन गए तो टीम इंडिया करेगी बेहतर प्रदर्शन?

पहले एशिया कप और फिर टी20 वर्ल्ड कप, दोनों ही बड़े टूर्नामेंट्स में टीम इंडिया का प्रदर्शन उम्मीदों के मुताबिक नहीं रहा. टी20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में हार के बाद तो रोहित शर्मा की कप्तानी पर सवाल खड़े हुए और अब हेड कोच राहुल द्रविड़ की काबिलियत पर भी प्रश्न चिह्न लगाया जा रहा है. पूर्व ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने कहा है कि राहुल द्रविड़ के साथ एक ऐसे शख्स को कोचिंग स्टाफ में होना चाहिए जो हाल ही में टी20 फॉर्मेट खेला हो और जो इस फॉर्मेट को बेहतर समझता हो. हरभजन सिंह ने आशीष नेहरा का नाम लिया है.

आशीष नेहरा का नाम इसलिए सामने आ रहा है क्योंकि इस पूर्व तेज गेंदबाज ने हाल ही में आईपीएल में अपनी कोचिंग का लोहा मनवाया है. नेहरा ने गुजरात टाइटंस को पहले ही सीजन में चैंपियन बना दिया. नेहरा टीम के हेड कोच थे और उनकी अगुवाई में टीम ने हैरतअंगेज प्रदर्शन करते हुए आईपीएल 2022 का खिताब जीता. अब सवाल ये है कि क्या नेहरा टी20 में द्रविड़ से बेहतर हेड कोच साबित हो सकते हैं? इस सवाल का जवाब आप खुद तय कीजिए लेकिन राय बनाने से पहले हम आपको बता रहे हैं नेहरा की वो 4 खासियत जो उन्हें टीम इंडिया के लिए आइडल कोच बनाती है.

1. टी20 मैचों का अच्छा अनुभव

हरभजन सिंह ने ये कहकर आशीष नेहरा के नाम की वकालत की और इसकी वजह उन्होंने बताई कि नेहरा हाल के कुछ सालों में ही में रिटायर हुए हैं. ये खिलाड़ी टी20 फॉर्मेट को ज्यादा बेहतर समझता है. कहीं ना कहीं भज्जी की बात में दम तो दिखता है. नेहरा को 88 IPL मैचों का अनुभव है और साथ ही वो 27 टी20 मैच भी खेले हैं.

2. टीम मैनेजमेंट में माहिर

आशीष नेहरा की एक खास बात ये भी है कि वो टीम मैनेजमेंट में माहिर हैं. खिलाड़ियों के साथ उनका दोस्ताना रवैया एक बड़ा प्लस प्वाइंट है. इससे खिलाड़ी नर्वस नहीं होते हैं और वो मैदान पर बेहतर प्रदर्शन करते हैं. गुजरात टाइटंस के लिए भी नेहरा ने यही किया. नेहरा ने कई युवा खिलाड़ियों को प्लेइंग इलेवन में जगह दी जो बड़े नाम भी नहीं थे. इसमें साईं किशोर, साहा, वेड, राहुल तेवतिया जैसे खिलाड़ी शामिल हैं. अंत में इन्हीं खिलाड़ियों ने टीम को चैंपियन बनाया.

3. आंकड़ों को बिल्कुल तरजीह नहीं देते नेहरा

आशीष नेहरा की एक और खास बात ये है कि वो आंकड़ों और मैच अप्स जैसी चीजों पर बिल्कुल ध्यान नहीं देते. उनका सीधा मानना है कि अगर खिलाड़ी अच्छा है तो वो किसी भी हालात और विरोधी के खिलाफ बेहतर कर सकता है. आमतौर पर बाएं हाथ के बल्लेबाजों के सामने बाएं हाथ के स्पिनर्स को गेंदबाजी नहीं कराई जाती लेकिन नेहरा इसके बिल्कुल उलट हैं. वो आंकड़ों से ज्यादा खिलाड़ी की फॉर्म और काबिलियत को तवज्जो देते हैं.

ये भी पढ़ें



4. हार्दिक पंड्या से अच्छी ट्यूनिंग

माना जा रहा है कि 2024 टी20 वर्ल्ड कप में हार्दिक पंड्या टीम के कप्तान हो सकते हैं. हाल ही में पंड्या ने न्यूजीलैंड टी20 सीरीज में भी टीम को जिताया. अब अगर पंड्या कप्तान हैं तो नेहरा की उनसे अच्छी ट्यूनिंग जमनी तय है. गुजरात टाइटंस में दोनों की जोड़ी ने एक नई नवेली टीम को आईपीएल का खिताब दिलाया. साफ है नेहरा को अगर टी20 टीम की कोचिंग सौंपी जाती है तो ये पूर्व गेंदबाज आपको बेहतर करके दे सकता है.

techo2life

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *