Aam aadmi party ahead in giving tickets to criminals, ADR, bjp, congress | गुजरात चुनाव : क्रिमिनल्स को टिकट देने AAP आगे, ADR के आंकड़ों से खुलासा

गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले फेज में 788 प्रत्याशी मैदान में हैं. इनमें से कई प्रत्याशियों पर आपराधिक मुकदमें दर्ज हैं. उक्त बात का खुलासा एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की रिपोर्ट से हुआ है.

TV9 Bharatvarsh | Edited By: राहुल कुमार

Updated on: Nov 24, 2022, 6:19 PM IST

गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए एक और पांच दिसंबर को मतदान है.इस चुनाव में भारतीय जनता पार्टी, कांग्रेस , आम आदमी पार्टी और भारतीय ट्राइबल पार्टी ने 77 वैसे उम्मीदवारों को टिकट दिया है, जिनपर कोई न कोई आपराधिक केस दर्ज हैं.

गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए एक और पांच दिसंबर को मतदान है.इस चुनाव में भारतीय जनता पार्टी, कांग्रेस , आम आदमी पार्टी और भारतीय ट्राइबल पार्टी ने 77 वैसे उम्मीदवारों को टिकट दिया है, जिनपर कोई न कोई आपराधिक केस दर्ज हैं.

गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण के 167 प्रत्याशियों पर क्रिमिनल केस दर्ज हैं. वहीं, 100 उम्मीदवारों पर सीरियस क्रिमिनल केस दर्ज हैं.

गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण के 167 प्रत्याशियों पर क्रिमिनल केस दर्ज हैं. वहीं, 100 उम्मीदवारों पर सीरियस क्रिमिनल केस दर्ज हैं.

 इस बार के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने 14 और कांग्रेस ने 31 वैसे उम्मीदवारों को टिकट दिया है, जिनपर कोई न कोई आपराधिक केस दर्ज हैं. वहीं, आम आदमी पार्टी ने 32 और बीटीपी ने भी 4 ऐसे उम्मीदवारों को चुनावी मैदान में उतारा है.

इस बार के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने 14 और कांग्रेस ने 31 वैसे उम्मीदवारों को टिकट दिया है, जिनपर कोई न कोई आपराधिक केस दर्ज हैं. वहीं, आम आदमी पार्टी ने 32 और बीटीपी ने भी 4 ऐसे उम्मीदवारों को चुनावी मैदान में उतारा है.

आम आदमी पार्टी ने 30 प्रतिशत और कांग्रेस ने 20 प्रतिशत वैसे उम्मीदवारों को टिकट दिया है, जिनपर सीरियस क्रिमिनल केस दर्ज हैं. वहीं, बीजेपी ने 12% और बीटीपी ने 7% ऐसे उम्मीदवारों को चुनावी मैदान में उतारा है.

आम आदमी पार्टी ने 30 प्रतिशत और कांग्रेस ने 20 प्रतिशत वैसे उम्मीदवारों को टिकट दिया है, जिनपर सीरियस क्रिमिनल केस दर्ज हैं. वहीं, बीजेपी ने 12% और बीटीपी ने 7% ऐसे उम्मीदवारों को चुनावी मैदान में उतारा है.

2017 के आंकड़ों की बात करें तो उस समय चुनाव लड़ने वाले 137(15%) प्रत्याशियों पर क्रिमिनल केस दर्ज था. वहीं, 78(8%) प्रत्याशियों पर सीरियस क्रिमिनल केस था.

2017 के आंकड़ों की बात करें तो उस समय चुनाव लड़ने वाले 137(15%) प्रत्याशियों पर क्रिमिनल केस दर्ज था. वहीं, 78(8%) प्रत्याशियों पर सीरियस क्रिमिनल केस था.

साल 2017 के चुनाव में कांग्रेस ने 31 (36%) और भारतीय जनता पार्टी ने 22 (25%) ऐसे उम्मीदवारों को टिकट दिया था, जिसपर कोई न कोई आपराधिक केस दर्ज थे. भारतीय ट्राइबल पार्टी ने ऐसे 2 (67%) उम्मीदवारों को टिकट दिया था.

साल 2017 के चुनाव में कांग्रेस ने 31 (36%) और भारतीय जनता पार्टी ने 22 (25%) ऐसे उम्मीदवारों को टिकट दिया था, जिसपर कोई न कोई आपराधिक केस दर्ज थे. भारतीय ट्राइबल पार्टी ने ऐसे 2 (67%) उम्मीदवारों को टिकट दिया था.


Most Read Stories

techo2life

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *